spot_img
गुरूवार, जून 17, 2021
spot_imgspot_img
spot_img

jamshedpur-rural-घाटशिला में मानकी परिवार के सारथी बनी पंसस सारथी टुडू, बच्ची के इलाज कराने में कर रही है हर संभव मदद, परिवार को सरकारी मदद की आस

Advertisement
Advertisement


घाटशिला : घाटशिला प्रखंड की काड़ाडूबा पंचायत के केंदपुसी गांव निवासी कन्हाई लाल मानकी के परिवार के लिए इन दिनों सारथी के रूप में पंचायत की पंसस सारथी टुडू परिवार को हर संभव सहयोग कर रही है. कन्हाई लाल मानकी के परिवार के समक्ष इन दिनों दुखों का पहाड़ टूट पड़ा है. आर्थिक कमी परिवार के समक्ष संकट बना हुआ है. कन्हाई लाल मानकी खुद एक वर्ष से लकवा बीमारी से ग्रसित है और वह एक वर्ष से विस्तर पर पड़ा हुआ है. कन्हाई लाल मानकी के बीमार होने पर उसकी पत्नी सोनोका मानकी के उपर परिवार चलाने का बोझ आ गया है. सोनोका मानकी अपने दो वर्ष के पुत्र को गोद में लेकर ईट भट्टा में मजदूरी कर किसी तरह परिवार का भरण पोषण कर रही है.

Advertisement
Advertisement

वही कन्हाई लाल मानकी की बेटी पूजा मानकी (15)भी अज्ञात बीमारी से ग्रसित हो गई है. परिवार के सदस्यों ने बताया कि विगत दो वर्ष पूर्व पूजा मानकी पेड़ से गिरी थी उस वक्त परिवार के सदस्यों ने आर्थिक कमी के कारण उसका उपचार नही करा पाये थे. विगत तीन माह पूर्व पूजा मानकी अज्ञात बीमारी के चपेट में आ गई. वह कमर की बीमारी से चलने फिरने में असमर्थ हो गई है. गांव की इस परिवार की समस्या से अवगत होकर पंचायत की पंचायत समिति सदस्य सारथी टुडू परिवार को मदद करने की ठान ली और वह विगत दो माह से कन्हाई लाल मानकी के परिवार के लिए एक सारथी के रूप में हर संभव परिवार को मदद कर रही है. सारथी टुडु ने बताया कि कन्हाई लाल मानकी को लकवा बिमारी है और उसकी बेटी कमर की बिमारी से ग्रसित है सूचना पाकर वह कन्हाई लाल मानकी के घर गई और समस्या से अवगत हुई. उन्होंने कहा कि कन्हाई लाल मानकी के परिवार की समस्या को वे घाटशिला के एसडीओ सत्यवीर रजक के समक्ष रखकर सरकारी सहयोग दिलाने की मांग की जिसपर एसडीओ ने पहल करते हुए पूजा मानकी को उपचार के लिए घाटशिला अनुमंडल अस्पताल लाया, यहां उपचार कर उसे बेहतर इलाज के लिए जमशेदपुर एमजीएम रेफर कर दिया गया.

Advertisement

वहां भी पूजा की कुछ दिनों तक इलाज कर उसे बेहतर इलाज के लिए रांची रिम्स अस्पताल भेज दिया गया है. श्रीमती टुडु ने बताया कि पूजा के घर पर मरीज के साथ रहने वाला कोई व्यस्क व्यक्ति नही है जिस कारण पूजा के साथ रीम्स में उसकी 13 वर्षीय छोटी बहन एटेंडर के रूप में उसके साथ रिम्स में विगत एक माह से रह रही है. बताया कि वहां डॉक्टर द्वारा पूजा की एक्सरे करने के बाद बताया कि उसे बोन टीबी की बीमारी हुई है. डॉक्टर ने उसे एक माह की दवा की परची देकर कहा है कि बाहर से दबा लेकर खाओ और घर जाओ, एक माह बाद दोबारा आना तो ऑपरेशन होगा कहकर पूजा को गुरूवार को ही रीम्स से डीसचार्ज कर दिया गया है. पूजा अपनी बहन के साथ फिलहाल रीम्स में ही है. कहा कि वहां बच्ची की देखभाल करने वाला कोई नही है. बच्ची घर कैसे आएगी, कहा कि वे खुद दो तीन बार रांची जाकर पूजा की स्वास्थ्य की जानकारी ली है पूजा ने कहा कि यहां भी उसकी बेहतर इलाज नही होती है और ना ही दवा दी जाती है. कहा कि सोमवार को वे खुद रांची रिम्स जाकर बच्ची को वापस घर लाने की प्रयास करेगी. श्रीमती टुडू ने कहा कि पूजा मानकी कि हालात से सभी मंत्री और पदाधिकारी वाकिफ है परंतु उसकी बेहतर इलाज के लिए कोई भी पहल नही कर रहे हैं जिस कारण पूजा का इलाज समय पर सही नही हो पा रहा है.

Advertisement

सोनोका मानकी ने सरकार से पति और बेटी की इलाज के लिए लगाई गुहार

Advertisement

घाटशिला प्रखंड के केंदपुसी गांव निवासी कन्हाई लाल मानकी की पत्नी सोनोका मानकी ने सरकार और पदाधिकारियों से गुहार लगाई है कि साहब लोग उसकी मदद करें, ताकि उसकी लकवा ग्रस्त पति कन्हाई लाल मानकी और बेटी पूजा मानकी का बेहतर इलाज हो सके. सोनोका मानकी ने कहा कि सरकारी साहब से यही निवेदन है की वे उसकी पति और बेटी का इलाज करवा दे ताकि दोनों स्वस्थ्य होकर घर लोट सके. सोनोका मानकी ने कहा कि पति के बिमार होने पर उसके माथे पर परिवार का बोझ आ गया है. वह ईट भट्टा में मजदूरी कर किसी तरह परिवार का भरण पोषण कर रही है. कहा कि उसकी बेटी इलाज के लिए रांची में है वे जाना तो चाहती है पर परिवार का भरण पोषण कैसे होगा, परिवार की पेट भरने की ख़ातिर वह यहां गांव में रहकर मजदूरी कर परिवार का भरण पोषण कर रही है.

Advertisement

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

spot_imgspot_img

Must Read

Related Articles

Don`t copy text!