spot_imgspot_img

Global Statistics

All countries
263,715,940
Confirmed
Updated on December 2, 2021 7:41 AM
All countries
236,262,648
Recovered
Updated on December 2, 2021 7:41 AM
All countries
5,241,569
Deaths
Updated on December 2, 2021 7:41 AM
spot_img

jharkhand-murkti-morcha-decision-झामुमो के केंद्रीय कार्यसमिति की बैठक में फैसला, टाटा के खिलाफ जारी रहेगा आंदोलन, हुड़का जाम के बाद नाकेबंदी की तैयारी, कई और कंपनियों के खिलाफ भी होगा आंदोलन, 18 दिसंबर को होगा महाधिवेशन, गुरुजी शिबू सोरेन और सीएम हेमंत सोरेन की मौजूदगी में लिये गये कई फैसले

Advertisement
झामुमो की केंद्रीय कार्यसमिति की बैठक को संबोधित करते मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन.

रांची : सत्ताधारी झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) की केंद्रीय कार्यसमिति की बैठक रांची में आयोजित की गयी. इसकी अध्यक्षता केंद्रीय अध्यक्ष गुरुजी शिबू सोरेन ने की जबकि इसमें झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन बतौर कार्यकारी अध्यक्ष मौजूद थे. इस बैठक में केंद्रीय कार्यसमिति के सारे सदस्य मौजूद थे. बैठक में तय किया गया कि 18 दिसंबर को रांची के हरमू स्थित एक भवन में ही आयोजित की जायेगी. यह 12वां अधिवेशन होगा, जिसमें झामुमों से जुड़े तमाम स्तर के नेताओं को बुलाया जायेगा. इस दौरान टाटा समूह के खिलाफ चल रहे आंदोलन का मुद्दा भी उठाया गया. मंत्री चंपई सोरेन की मौजूदगी में झामुमो के जमशेदपुर महानगर अध्यक्ष रामदास सोरेन के पत्र के आलोक में इस पर चर्चा की गयी. (नीचे देखे पूरी खबर)

Advertisement
Advertisement
झामुमो की केंद्रीय कार्यसमिति की बैठक में गुरुजी शिबू सोरेन और मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन.

इस चर्चा के दौरान तय किया गया कि मांग जायज है और इसको लेकर टाटा समूह के खिलाफ आंदोलन को जारी रखा जायेगा. आर्थिक नाकेबंदी का जो फैसला है, उस पर अडिग है, जिसको लेकर जल्द ही तिथि तय कर दी जायेगी. कंपनियों के माल की आवाजाही को पूरी तरह रोक दिया जायेगा. इसके अलावा यह भी तय किया गया कि झारखंड में कारोबार करने वाली ऐसी कंपनियां, जो लगातार स्थानीय लोगों को नौकरी दी जा रही है और 75 फीसदी स्थानीय आरक्षण नहीं दिया जा रहा है, उसके खिलाफ भी आंदोलन किया जायेगा. निजी कंपनियों के अलावा सरकारी उपक्रम वाली कंपनियां (पीएसयू) के खिलाफ भी आंदोलन किया जायेगा. इसके लिए हर जिले में इसका अध्ययन करने को कहा गया है. 18 दिसंबर को होने वाले महाधिवेशन में इस पर फैसला लिया जायेगा. पंचायत चुनाव को लेकर भी विस्तार से चर्चा की गयी. संगठन को मजबूत बनाते हुए पंचायतों में चुनाव में हिस्सा लेने को कहा गया है. इस मीटिंग के बारे में केंद्रीय प्रवक्ता बिनोद पांडेय ने कहा कि टाटा के खिलाफ जो आंदोलन है, वह चलता रहेगा और इस मुद्दे पर जब तक फैसला नहीं होता है, तब तक जारी रहेगा. इस आंदोलन के अलावा पंचायत चुनाव को लेकर तैयारियां की गयी है. सांगठनिक तौर पर किस तरह झामुमो को और मजबूत किया जाना है, उसके बारे में भी विस्तार से चर्चा की गयी है.

Advertisement
Advertisement
WhatsApp Image 2020-06-13 at 7.45.22 PM
IMG-20200108-WA0007-808x566
WhatsApp Image 2020-06-13 at 7.45.22 PM (1)
WhatsApp_Image_2020-03-18_at_12.03.14_PM_1024x512
previous arrow
next arrow

Leave a Reply

spot_img

Must Read

Related Articles

Don`t copy text!