चाकुलिया में हाथियों ने एक ग्रामीण को पटककर मार डाला, मुआवजा हाथी पर लगाम लगाने की मांग पर विधायक समेत कई राजनीतिक दलों ने शव को रोका

Advertisement
Advertisement
शव के साथ वन विभाग के अधिकारियों की क्लास लगाते विधायक कुणाल षाड़ंगी व भाजपा नेता समीर महंती

चाकुलिया : चाकुलिया वन क्षेत्र के मौरबेड़ा गांव के खदानडीह टोला निवासी रेंटा हंसता (32)को रविवार सुबह 6 बजे एक जंगली हाथी ने पटक कर मार दिया है. हाथी के हमले से रेंटा मुर्मू की हुई मौत से ग्रामीणों में वन विभाग के प्रति आक्रोश व्याप्त है. लोग मांग कर रहे हैं कि हाथी के उत्पात से बचाया जाए.

Advertisement
Advertisement
मारे गए व्यक्ति के परिजन के साथ वन विभाग और विधायक

घटना की सूचना पाकर बहड़ागोड़ा के विधायक कुणाल षाड़ंगी, रेंजर अशोक कुमार सिंह, भाजपा नेता समीर महंती गांव पहुंचकर घटना की जानकारी ली. लोगों ने बताया कि रेंटा हांसदा सुबह घर से साइकिल लेकर किराना दुकान गया था, लोटने के क्रम में वह हाथी के सामने आ गया वह साइकिल को सड़क पर गिराकर दौड़कर भागने का प्रयास किया.

Advertisement
Advertisement
Advertisement

हाथी पीछे से पकड़कर उसको पटककर मार दिया. मौके पर आक्रोशित ग्रामीणों ने प्रशासन को करीब एक घंटे तक शव को उठाने नहीं दिया. ग्रामीणों की मांग थी कि पहले वन विभाग हाथी को गांव से दूर भगाएं तब ग्रामीण शव को उठाने देंगे. ग्रामीणों ने रोष व्यक्त करते हुए कहा कि वन विभाग के पदाधिकारी हाथी भगाने में नाकाम साबित हो रहे हैं, जिस कारण लोगों की मौत हो रही है . इन लोगो ने कहा कि एक माह के अंदर ही बहरागोड़ा विधानसभा में दो लोगों की मौत हो चुकी है. लोगों ने मांग की है कि विभाग हाथी को गांव से दूर भगाएं नही तो ग्रामीण आंदोलन के लिये बाध्य होगें. मौके पर ग्रामीणों को आश्वस्त करते हुए रेंजर ने कहा कि विभाग एक टीम गठन कर हाथी को भगाने का प्रयास किया जा रहा है. उन्होंने लोगों से कहा कि वे एक टीम का गठन करेंगे, जहां से भी विभाग को सूचना मिलेगी की हाथी है, टीम वहां पहुंचेगी. तब जाकर लोगों ने प्रशासन को शव को पोस्टमार्टम के लिए ले जाने दिया.

Advertisement

वन विभाग की टीम पर विधायक रखेंगे नजर :

Advertisement

बहड़ागोड़ा के विधायक कुणाल षाड़गी ने रोष व्यक्त करते हुए कहा कि वन विभाग हाथी को भगाने के लिए जल्द से जल्द टीम का गठन करें. उन्होंने कहा कि एक वैन तैयार रखें ताकि जहां से भी सूचना मिले गांव में हाथी प्रवेश किया है. टीम तुरंत उस गांव में पहुंचकर हाथी को गांव से दूर भगाने का काम करें. उन्होंने कहा कि टीम को हाथी भगाने के लिए सारे उपकरण मुहैया करायी जाए और हाथी प्रभावित गांव में भी विभाग द्वारा मोबिल ,पटाखे और मशाल की व्यवस्था कराई जाए ताकि लोग हाथी को भगा सके. विधायक ने कहा कि मृतक के परिवारों को विभाग जल्द से जल्द प्रक्रिया पूरी कर सरकार द्वारा घोषित मुआवजा राशि उपलब्ध कराई जाए. उन्होंने कहा कि बहरागोड़ा विधानसभा क्षेत्र में कई महीनों से हाथियों का आतंक है. विभाग हाथी के दल को गांव से दूर ले जाने काम करें.

Advertisement

रेंजर ने परिवार को किया आर्थिक सहयोग

Advertisement

बहरागोड़ा के विधायक कुणाल सारंगी के प्रयास से तत्काल रेंजर ने मृतक की पत्नी चूड़ामणि हादसा को 25000 रुपए दिए. उन्होंने आश्वस्त किया कि विभागीय प्रक्रिया पूरी होने के पश्चात परिवार को सरकार द्वारा घोषित राशि शेष राशि 375000 रुपये दी जाएगी.

Advertisement

हाथी को गांव से भगाए नहीं तो करेंगे आंदोलन समीर

Advertisement

भाजपा नेता समीर महंती ने रेंजर से मांग किया है कि वन विभाग कर्मी हाथी को गांव से दूर भगाएं नहीं तो वह ग्रामीणों के साथ वन विभाग कार्यालय के समक्ष उग्र आंदोलन करेंगे. उन्होंने कहा कि लगातार हाथी गांव में आते हैं और हाथी घर और लोगों पर हमला कर रहा है. इससे लोगों की जान-माल की हानी हो रही है. उन्होंने कहा कि विभाग जल्द से जल्द हाथी को गांव से दूर भगाए नहीं तो वे उग्र आंदोलन करने के लिए बाध्य होंगे.

Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement