spot_img

jamshedpur-Panchayat Election- जमशेदपुर जिला परिषद संख्या-8 की प्रत्याशी कविता परमार ने कीताडीह, गाड़ाबासा, गांधीनगर व सीपी टोला में किया डोर टू डोर जनसंपर्क, विकास के लिए मांगे वोट

राशिफल


जमशेदपुर: जिला परिषद निर्वाचन क्षेत्र संख्या 8 से पार्षद का चुनाव लड़ रही कविता परमार ने मंगलवार को गाड़ाबासा, कीताडीह क्षेत्र के पंचायत एरिया में पदयात्रा की. वे घर-घर जाकर लोगों से मिली. लोगों ने उनका जमकर स्वागत किया. जगह-जगह कविता परमार को रोककर महिलाओं ने उन्हें माला पहनाया. उन्हें सुहाग का सिंदूर लगाया और जीत के लिए दुआएं दी. आशीर्वाद दिया. दरअसल कीताडीह क्षेत्र में हर संप्रदाय, जाति और बिरादरी के लोग एक साथ मिलकर रहते हैं. हिंदू, मुस्लिम, सिख, ईसाई मिलजुल कर एक साथ क्षेत्र में रहते हैं. सभी ने उन्हें विश्वास दिलाया कि वे लोग उन्हें अपना अमूल्य वोट देकर पार्षद बनाएंगे. कई जगह लोगों की बहुत सारी शिकायतें थी जिसकी पूर्व पार्षदों द्वारा अनदेखी की गई हैं. लोगों ने भेदभाव की भी शिकायतें की. कविता परमार ने लोगों को विश्वास दिलाया कि वे बिना किसी भेदभाव के समानता के साथ क्षेत्र में विकास का कार्य करेंगी. लोगों की समस्याओं को दूर किया जाएगा समस्याओं को उसकी जरूरतों के हिसाब से सूचीबद्ध कर और प्राथमिकता के आधार पर उनका समाधान निकाला जाएगा. (नीचे भी पढ़े)

कविता परमार ने लोगों को बताया कि वे सामाजिक कार्यों में हमेशा से रुचि लेती रही हैं. यही वजह है कि वे चुनाव लड़ रही हैं ताकि क्षेत्र के लोगों से बराबर का संपर्क बना रहे और किसी न किसी रूप में वे उनके काम आए.कविता परमार ने लोगों को बताया की जीत के बाद भी वह उन्हें भूलेंगी नहीं. घर-घर जाकर उनकी समस्याओं को जानेंगी. और उसके निदान का प्रयास करेंगी. जो भी उनके स्तर से होगा. उच्च व्यक्तित्व और सकारात्मक सोच वाली आधुनिक विचारों वाली कविता परमार का मानना है कि हर समस्या गंभीर होती है. उनका समाधान समय से किया जाना आवश्यक है. कविता परमार ने लोगों को सुझाव दिया कि उन्हें सकारात्मक सोच रखनी चाहिए. नकारात्मक सोच से मानसिक विकृति पैदा होती है. सकारात्मक सोच से प्रगति होगी. बड़ी बड़ी समस्या भी छोटी लगने लगती है. जिसका समाधान व्यक्ति बहुत आसानी से कर सकता है. उन्होंने बताया कि उनका पदयात्रा का कार्यक्रम मंगलवार को शाम के समय गांधीनगर, बजरंग टेकरी, दक्षिणी बागबेड़ा, लाल बिल्डिंग, रामनगर और डीबी रोड, सीपीटोला क्षेत्रों में है. वे घर-घर जाकर लोगों से मिलेंगी और अनुरोध करेंगी कि वे लोग चूड़ियां छाप पर मोहर लगाकर उन्हें विजयी बनावे. कविता परमार थकी जरूर थी, लेकिन जीत के प्रति वह आश्वस्त दिखी. उन्हें क्षेत्र के लोगों पर पूरा भरोसा है कि वे उन्हें बिजयी बनाने के लिए मतदान करेंगे.

WhatsApp Image 2022-04-29 at 12.21.12 PM
WhatsApp-Image-2022-03-29-at-6.49.43-PM-1
Shiv Yog Physiotherapy And Yoga Classes
spot_img

Must Read

Related Articles

Don`t copy text!