spot_img
शुक्रवार, मई 14, 2021
spot_imgspot_img
spot_img

jharkhand-corona-vaccine-झारखंड में कोरोना का वैक्सीन 1 करोड़ लोगों को दी जायेगी, मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने की बैठक, झारखंड में दूसरा ड्राइरन शुक्रवार को, jamshedpur-corona-जमशेदपुर में डिमना समेत कई जगहों पर कोरोना की हुई जांच

Advertisement
Advertisement

रांची/जमशेदपुर : झारखंड के मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने कोविड-19 टीकाकरण एवं शीत श्रृंखला प्रबंधन की चल रही तैयारियों की अधिकारियों के साथ समीक्षा की. मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना टीकाकरण के सफल क्रियान्वयन के लिए समयपूर्व पूरी व्यवस्था दुरुस्त कर ली जाये. उन्होंने इसके लिए सभी विभागों और निजी स्वास्थ्य संस्थाओं के साथ समन्वय बनाने, टीकाकरण स्थल को चिन्हित करने, प्रशिक्षित मानव संसाधन और संबंधित संसाधनों की उपलब्धता सुनिश्चित करने को कहा. स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव डॉ नितिन मदन कुलकर्णी ने मुख्यमंत्री को अवगत कराया कि 8 जनवरी को राज्य के सभी जिलों में कोविड-19 टीकाकरण को लेकर ड्राई रन का आयोजन किया जाएगा. इससे पहले भी राज्य के 6 जिलों के 375 वोलेंटियर्स को चिन्हित कर कोरोना टीकाकरण का सफल ड्राई रन किया जा चुका है. स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव ने बताया कि कोरोना टीकाकरण एवं शीत श्रृंखला प्रबंधन को लेकर मुख्य सचिव की अध्यक्षता में राज्य स्तरीय संचालन समिति और जिलों में उपायुक्त की अध्यक्षता में जिला स्तरीय संचालन समिति का गठन किया गया है. इसके अलावा सभी उपायुक्त के माध्यम से गोल्ड चेन प्वाइंट्स के निरीक्षण का कार्य अंतिम चरणों में है. राज्य में कोरोना टीकाकरण अभियान को लेकर प्रायोरिटी तय कर ली गई है. इसके तहत सबसे पहले लगभग 1.5 लाख हेल्थ केयर वर्कर्स का कोरोना टीकाकरण होगा. इसमें आंगनबाड़ी सेविकाएं भी शामिल होंगी. इसके बाद राज्य और केंद्र सरकार के पुलिस जवानों, सशस्त्र बल, होमगार्ड, जेल कर्मचारी, आपदा प्रबंधन समन्वयक , नागरिक सुरक्षा संगठन, नगरपालिका कर्मी और राजस्व अधिकारियों के रूप में कार्य कर रहे फ्रंटलाइन वर्कर्स को टीका लगाया जाएगा. इसके लिए लगभग दो लाख लाभार्थियों को चिन्हित किया गया है. इसके बाद 50 साल से ज्यादा उम्र के लगभग 62.97 लाख लोगों तथा 50 साल से ज्यादा उम्र वाले वैसे लोग जो मधुमेह, उच्च रक्तचाप, कैंसर औऱ फेफड़े के रोग से ग्रसित हैं, उन्हें टीकाकरण अभियान में शामिल किया जाएगा. इसकी अनुमानित संख्या लगभग लगभग 33.42 लाख है. पूरे राज्य में 275 वैक्सीन भंडार बनाए गए हैं. इसमें राज्य स्तर पर एक और दो क्षेत्रीय वैक्सिन भंडार हैं. इसके अलावा सभी 24 जिलों में 1-1 और 248 सामूहिक सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र तथा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में वैक्सिंग भंडार बनाए गए है. इसके अलावा वैक्सीनेटर को प्रशिक्षण देने का कार्य लगातार जारी है. कोरोना का टीका लेने वाले लाभार्थियों को डिजिटल टीकाकरण प्रमाण पत्र दिया जाएगा. स्वास्थ विभाग के प्रधान सचिव ने बताया कि इच्छुक लाभार्थियों के लिए स्वास्थ्य आईडी का भी निर्माण किया जाएगा. टीकाकरण के बाद प्रतिकूल घटनाओं की रिपोर्टिंग और ट्रेकिंग की भी व्यवस्था की गई है. बैठक में स्वास्थ्य मंत्री श्री बन्ना गुप्ता, मुख्य सचिव श्री सुखदेव सिंह , मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव श्री राजीव अरुण एक्का और स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव श्री नितिन मदन कुलकर्णी उपस्थित थे. दूसरी ओर, कोरोना संक्रमण से बचाव हेतू जमशेदपुर के विभिन्न स्थानों पर कोविड-19 का सैंपल कलेक्शन किया जा रहा है. इस क्रम में समाहरणालय परिसर में 24 लोगों का रैपिड एंटीजन किट से जांच किया गया जिसमें सभी नेगेटिव पाए गए. वहीं सिद्गोड़ा टाउन हॉल में 14 लोगों का ट्रूनेट मशीन से टेस्ट किया गया तथा शहर के प्रमुख पर्यटक स्थल डिमना झील में आने वाले पर्यटक का भी कोरोना जांच किया गया. इस दौरान कुल 50 आरटी पीसीआर टेस्ट तथा एक ट्रू-नेट का कलेक्शन किया गया. सैंपल कलेक्शन टीम में एमपीडब्ल्यू अवधेश प्रसाद, अश्विनी पांडे, लैब टेक्नीशियन में नागेश्वर मुर्मू, प्रभास सरदार, राजेश साहू, डोली कुमारी एवं कार्तिक कुमार शामिल थे.

Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

spot_imgspot_img

Must Read

Related Articles

Don`t copy text!