टाटा मोटर्स के बिजनेस वेहिकल यूनिट के प्रेसिडेंट जमशेदपुर पहुंचे, ग्रेड व बोनस को लेकर चल रही निर्णायक वार्ता, मंदी का बहाने प्रबंधन स्थायीकरण को चाहता है टालना

जमशेदपुर : टाटा मोटर्स के कर्मचारियों का ग्रेड रिवीजन और बोनस गुरुवार तक तय होना है. इसको लेकर टाटा मोटर्स व्हिकाल बिजनेस यूनिट के प्रेसिडेंट गिरीश वाघ जमशेदपुर पहुंच चुके हैं. यूनियन के अध्यक्ष गुरमीत सिंह एवं महामंत्री आरके सिंह के साथ निर्णायक वार्ता हुई. वार्ता के दौरान यूनियन ने 300 प्लस स्थायीकरण की मांग रखी, जिस पर प्रबंधन ने इंकार कर दिया. मंदी को देखते हुए प्रबंधन फिलहाल स्थायीकरण नहीं चाह रहा है. गिरीश वाघ ने कहा कि मंदी के कारण कंपनी की स्थिति ठीक नहीं है जबकि परंपरा अनुसार बोनस के दौरान स्थायीकरण की बात का 300 प्लस स्थायीकरण की मांग रखी. बाकी सभी बिंदुओं पर प्रबंधन के बीच सहमति बन चुकी है. स्थायीकरण पर सहमति के बाद कभी भी समझौता हो सकता है.

एनएस ग्रेड लागू हो तो सभी का हो स्थायीकरण
टाटा मोटर्स ग्रेड रिवीजन में पहली बार एनएस ग्रेड बनाया गया है. टाटा स्टील के तर्ज पर बनाये गये एनएस ग्रेड से कर्मचारियों को नुकसान होगा. इस ग्रेड के तहत स्थाई होने वाले कर्मचारियों को करीब 10, 000 का नुकसान हो सकता है. इसलिए यूनियन ने बीच का रास्ता निकालते हुए सभी बाइ-सिक्स के स्थायीकरण की मांग रखी है. यूनियन ने यहां तक कहा कि करीब 4800 बाइसिक्स कर्मी है, जिन्हें दो चरणों में स्थायीकरण की कर दिया जाए. इस पर ही प्रबंधन ने सिरे से खारिज कर दिया.

अध्यक्ष तोते गुरुवार को जा सकते हैं पंजाब
सूत्रों के अनुसार ग्रेड व बोनस को लेकर निर्णायक वार्ता चल रही है. इस बीच यूनियन अध्यक्ष गुरमीत सिंह तोते किसी आवश्यक कारणों से गुरूवार को पंजाब निकल सकते हैं. इसीलिए आज-कल में समझौता नहीं हुई तो यह 4 दिनों के लिए टल सकता है.

Leave a Reply

The Content Is Protected