spot_imgspot_img

Global Statistics

All countries
240,226,016
Confirmed
Updated on October 15, 2021 12:36 AM
All countries
215,798,951
Recovered
Updated on October 15, 2021 12:36 AM
All countries
4,893,452
Deaths
Updated on October 15, 2021 12:36 AM
spot_img

tata-steel-covid-allert-टाटा स्टील 6256 परमानेंट व ठेका कर्मचारियों की करेगी कोरोना की जांच, किनका पहले जांच होगी, क्या कहते है टाटा स्टील के वीपी व यूनियन अध्यक्ष, जानिये

Advertisement
Advertisement

जमशेदपुर : कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को लेकर टाटा स्टील अलर्ट है. इसके तहत कोविड-19 महामारी को देखते हुए टाटा स्टील काफी सावधानी बरत रही है और अपने कर्मचारियों के अच्छे स्वास्थ्य व उनकी सुरक्षा को सुनिश्चित करने के लिए सभी कदम उठा रही है. कंपनी ने ठेका कर्मचारियों समेत उन फ्रंटलाइन कर्मचारियों की पहचान की है, जिन्हें अधिक खतरा है आरै उनके लिए टीएमएच जमशेदपुर में प्रोएक्टिव कोविड-19 टेस्टिंग प्रोटोकल लागू करने के
लिए सभी व्यवस्थाएं की है. टाटा ब्रिजीटल कोविड सेफ्टी सर्विसेज (टीबीसीएसएस) टाटा स्टील में परीक्षण (पायलट) के रूप में सेवा दे
रही है. टीबीसीएसएस ने टाटा समूह की कंपनियों को कोविड-19 के खतरों से प्रभावी ढंग से निपटने में मदद करने के लिए टाटा समूह की विशेषज्ञता को एक सूत्र में पिरोया है. टीबीसीएसएस एक कार्यप्रणाली की योजना बनाने के लिए संस्थानों की मदद करने पर केंद्रित है, ताकि उनके पास एक सुरक्षित आौर निरापद कार्य वातावरण हो. बीमारी की गतिशीलता को समझने के लिए एंटी बॉडी और आरटी-पीसीआर टेस्ट, दोनों किए जाएंगे. नतीजों के आधार पर आगे की रणनीति तय की जाएगी. पायलट यानी परीक्षण चरण में जमशेदपुर में टाटा स्टील के 6256 फ्रंटलाइन कर्मचारियों को कोविड-19 टेस्ट के लिए चिन्हित किया गया है. चिन्हित किये गए कर्मचारियों के जोखिम स्तर को उनके कार्य प्रोफाइल, आयु, सह-रुग्णता, हाल की यात्रा के इतिहास और कोविड व्यक्ति के साथ निकट संपर्क आदि के आधार पर किया गया है. वर्तमान में इसके दायरे में कैंटीन सर्विसेज व कांट्रैक्ट सेल, मेडिकल सर्विसेज, सर्विसेज, कारपोरेट सोशल रिस्पांसीबिलिटी, सिक्यूरिटी एंड ब्रांड प्रोटेक्शन, मेकेनिकल मेंटेनेंस तथा ऑक्यूपेशनल हेल्थ एंड सेफ्टी जैसी श्रेणियों में कंपनी कर्मचारियों और ठेका कर्मचारियों को शामिल किया गया है. सेवाएं देने के लिए ‘ब्रिजटल कोऑर्डिनेटर्स’ की मदद से टाटा ब्रिजीटल आईटी प्लेटफ़ॉर्म का उपयोग किया जा रहा है, जो इस सेवा के लिए चिन्हित गए पहले से पंजीत टाटा स्टील कर्मचारी से जुड़ते हैं और टीबीसीएसएस के बारे में जानकारी प्रदान करते हैं. प्लेटफ़र्म की विशेषताओं में कार्यबल के सदस्यों को सूचना का ‘वन स्टॉप सोर्स’ प्रदान करना, प्रोएक्टिव मॉनिटरिंग व कांटैक्ट ट्रेसिंग (संपर्क की खोज) आदि शामिल है.

Advertisement

क्या कहते है टाटा स्टील के वीपी संजीव पॉल :
टाटा स्टील के वीपी सेफ्टी एंड हेल्थ एंड सस्टेनेबिलिटी संजीव पॉल ने इस पहल के बारे में बात करते हुए कहा कि टाटा स्टील एक मजबूत प्रबंधन प्रणाली की रूपरेखा और एक ठोस सुरक्षा प्रशासनिक संरचना का अनुसरण करती है, जो इसके स्वास्थ्य और सुरक्षा उपायों को संचालित करते हैं. हम सरकारी अधिकारियों और संबंधित स्वास्थ्य संस्थानों का गहन अनुसरण एवं समन्वय कर रहे हैं तथा अपने कर्मचारियों के कोविड-19 खतरों को कम करने के लिए अपने उपायों को अद्यतन किया है. यह पहल कोविड-19 की महामारी को कम करने के हमारे प्रयास को मजबूत करने की दिशा में एक कदम है.

Advertisement

क्या कहते है टाटा वर्कर्स यूनियन के अध्यक्ष आर रवि प्रसाद
टाटा वर्कर्स यूनियन के अध्यक्ष आर रवि प्रसाद ने कहा कि एक फ्रंटलाइन वर्कर के रूप में प्रतिदिन काम कर रहे किसी भी व्यक्ति को खतरा नहीं होना चाहिए या उन्हें दूसरों के लिए खतरा नहीं बनना चाहिए. मुझे यह जानकर खुशी हुई कि टाटा स्टील ने कोविड-19 महामारी के खतरों से फ्रंटलाइन वर्करों को बचाने के लिए इस तरह का एक अग्रसक्रिय कदम उठाया है.

Advertisement
[metaslider id=15963 cssclass=””]

Advertisement
WhatsApp Image 2020-06-13 at 7.45.22 PM
IMG-20200108-WA0007-808x566
WhatsApp Image 2020-06-13 at 7.45.22 PM (1)
WhatsApp_Image_2020-03-18_at_12.03.14_PM_1024x512
previous arrow
next arrow

Leave a Reply

spot_img
spot_img

Must Read

Related Articles

Don`t copy text!