बागबेड़ा सोमाय झोपड़ी के 15 हजार लोगों का संपर्क जमशेदपुर से टूटा, सांसद-विधायक, जिला परिषद समेत कोई भी जनप्रतिनिधि नहीं ले रहा सुध

जमशेदपुर : जमशेदपुर के बागबेड़ा थाना अंतर्गत सोमाय झोपडी का सीधा सम्पर्क जमशेदपुर से टूट गया है. जहां तीन पंचायत के 15 हजार ग्रामीणों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. ग्रामीणों का कहना है कि सोमाय झोपड़ी- रानीडीह को जोड़ने वाला पुल टूट चुका है, जबकि इसकी जानकारी जिला प्रशासन और स्थानीय जनप्रतिनिधियों को कई बार फिर गया है, बावजूद इसके न तो जिला प्रशासन ने गंभीरता दिखाई और न ही स्थानीय जनप्रतिनिधियों ने. वहीं ग्रामीण अब आंदोलन को विवश हैं. बताया जाता है कि बागबेड़ा सोमाय झोपड़ी में वर्षों पहले पुल बना था. लेकिन करीब एक माह पहले ही यह पुल ध्वस्त हो गया.

ध्वस्त होने के पहले यहां के जनप्रतिनिधियों से भी लोगों ने मांग की थी कि तत्काल पुल को नये सिरे से बनवा दिया जाये, लेकिन ऐसा नहीं किया गया. अंतत: यह पुल टूट गया. पुल टूटने के बाद लोगों ने मांग की है कि पुल को बनाया जाये, लेकिन अब यह संभव नहीं हो पा रही है. कोई देखने तक नहीं आ रहा है. 15 हजार की आबादी प्रभावित है. 24 घंटे जनता की सेवा के लिए मौजूद रहने वाले सांसद, विधायक, जिला परिषद सदस्य या पंचायतों के जनप्रतिनिधि तक उनकी आवाज नहीं उठा रहे है. अब लोग उपायुक्त से भी इसकी मांग कर चुके है, लेकिन किसी भी हाल में उनकी आवाज को कोई नहीं सुन रहा है. अब लोगों ने तय किया है कि वे लोग सड़क जाम कर ही अपनी मांग को पूरा करायेंगे.

Leave a Reply

The Content Is Protected